Hindi Story – सोने का सिक्का देने बाला शंख

Hindi Story

बहुत पहले की बात है एक बार पहलवान पुर नाम के गांव में एक गरीब परिवार रहता था | इस परिवार में सिर्फ तीन लोग थे सुरेश , सुरेश की पत्नी बिमला और सुरेश का बेटा राजू  | सुरेश बड़ा ही भोला भाला आदमी था और आसानी से बेवकूफ बन जाता था लेकिन उसकी पत्नी बड़ी ही चतुर औरत थी |
एक बार पहलवान पुर गांव में महाज्ञानी बाबा के कुछ शिष्य आए |

Kahaniya – हाथी और 6 अंधा आदमी की कहानी

Elephant Story

एक ज़माने में, एक गांव में , छह अंधा पुरुष रहते थे |
एक दिन गांववाले बहुत उत्साहित थे, गांववालों को उत्साहित जानकर जब उन अंधा पुरुषों ने गांववालों से पूछा कि क्या हो रहा है, तो उन्होंने उन्हें बताया, “अरे, गांव में आज एक हाथी आया है !”
उन्हें पता नहीं था कि हाथी क्या था, और इसलिए उन्होंने फैसला किया,

Hindi Stories – मुल्ला नसरुद्दीन  ( Mulla Nasruddin )

Story In Hindi

सभी गांव वाले मुल्ला नसरुद्दीन   के पास जाकर कहते हैं कि आप बड़े ज्ञानी हैं आप अपने ज्ञान हमारे साथ बांटिए |
मुल्ला नसरुद्दीन  गांव वालों  की चालाकी समझ जाते है |     |    मुल्ला नसरुद्दीन   सोचते है की गांव बालों को एक सीख देना चाहिए ताकी ये मुझे बार – बार परेशान न करे   |

Story In Hindi — मुल्ला नसरुद्दीन

Story In Hindi

एक बड़ा ईमानदार तस्कर है वो पुलिस से छुपा कर सामान एक देश से दूसरे देश ले जाकर बेचता था | एक बार एक  ईमानदार पुलिस कर्मी की नियुक्ति की मुल्ला नसरुद्दीन के शहर में हो जाता है | एक रात को मुल्ला नसरुद्दीन अपने गधे पर कुछ  घास बांधकर उसे दूसरे देश ले जा रहा था |

Hindi Kahani — मुल्ला नसरुद्दीन की मजेदार कहानी

Hindi Story

एक बार मुल्ला नसरुद्दीन  अपने दो दोस्तों के साथ बैठा हुआ था
मुल्ला नसरुद्दीन का पहला दोस्त कल मैं जंगल गया था और शेर को फंसाने  रखा लोहा के पिंजरे में फंस गया था  लेकिन मैंने अपने हाथ से उस पिंजरे को तोर कर बाहर निकल गया | मुल्ला नसरुद्दीन  का दूसरा दोस्त बोला कल मै भी जंगल गया था

HIndi Story – दो दोस्तों के जिंदगी से प्रेरित कहानी

Hindi Story Of Two Friends

बहुत पहले की बात है पारस नाम के गांव में राम और श्याम नाम के दो सच्चे दोस्त रहते थे राम एक व्यापारी था और वह अपने जहाज को किराए पर लगाकर पैसे कमाता था | राम बहुत अच्छा आदमी था | पारस गांव के लोग राम को बहुत पसंद करते थे क्योंकि वह हमेशा लोगों की मदद करने के लिए तैयार रहता था और गलत चीजों के खिलाफ आम आदमी के हक में आवाज उठाता था |